You are currently viewing Sim port kaise kare
Sim port kaise kare

Sim port kaise kare

Sim Port Kaise Kare ? मतलब अपने नंबर को MNP के जरिये PORT करना चाहते है  वैसे अगर बात करे अपने भारत की तो यहाँ पर जो Popular ऑपरेटर है – Jio, Bharti Airtel, Vodafone idea और BSNL जिसमे आप अपने नंबर को बदल सकते है ।

दोस्तो हम अपने नंबर को पोर्ट क्यों करते है क्योंकि हम जो भी ऑपरेटर का इस्तेमाल कर रहे है उसमें अच्छे Offers नही मिल रहा होगा या फिर Network की प्रॉब्लम होती है इसलिए आज के समय मे Technology इतनी आगे जा चुकी है कि आज हम सही और गलत चीज़ों को पहचान कर अपने लिए सही चीज़ों का चयन कर सके ।

पोर्ट करने से हमे क्या फायदा होगा आप मे से बहुत लोग इस बारे में भी बात करते है कि आखिर हमे दूसरे ऑपरेटर में जाने से क्या फायदा मिलेगा तो दोस्तो हम आपको बता दे  की MNP से अगर आपके Area में किसी भी ऑपरेटर का नेटवर्क या सर्विस अच्छी नही मिल रही है तो आप उस कंपनी से दूसरे कंपनी में जा सकते है क्योंकि अगर आपकी मेहनत की कमाई गलत जगहों पर लग रही है तो यह बिल्कुल अच्छी बात नही है ना तो आप इन सभी बातो को ध्यान रखते हुए अपना नंबर पोर्ट कर सकते है ।

Sim port kaise kare

आप मे से बहुत से लोग सोच रहे होंगे कि आखिर ये MNP क्या है ? तो दोस्तो बिल्कुल भी टेंशन लेने की जरूरत नही है क्योंकि मैं आपको पूरी जानकारी दूंगा । तो सबसे पहले बात करते है कि MNP क्या होता है तो MNP का FULL FORM होता है MOBILE NUMBER PORTABILITY इसे बहुत से लोग आसान भाषा मे PORT भी कहते है इस Process से आप बिना अपना नंबर बदले दूसरे ऑपरेटर में अपना सिम बदल सकते है ।

Sim PORT करने से पहले जानिए कुछ जरूरी बातें

दोस्तो आपके लिए मैंने कुछ जरूरी बातें बताई है जो कि आपको अपना सिम पोर्ट करने से पहले जान लेना चाहिए ।

  1. दोस्तो आप जो भी सिम चला रहे है वो 90 दिनों पुराना होना चाहिए मतलब आप जिस किसी भी ऑपरेटर का सिम  इस्तेमाल कर रहे है वह 3 महीने इस्तेमाल किया रहना चाहिए दोस्तो आप मे से बहुत से लोग यह भी सोचते है कि आज हमने सिम लिया और आज से 10 या 15 दिनों के बाद सोचते है अपने सिम को पोर्ट करने के बारे में तो ऐसा बिल्कुल possible नही है ।
  2. सिम पोर्ट करने के पहले आपके नंबर में Balance और Validity होना जरूरी है क्योंकि दोस्तो आपको अपने Mobile Phone से एक SMS भेजना पड़ता है जिसके लिए आपको आपने नंबर में बैलेंस और वैलिडिटी को रखना पड़ता है ।
  3. आपका सिम पोर्ट होने के बाद आपके सिम में जो भी Contact Number Save है उससे आपको नए सिम कार्ड में कॉपी करना पड़ेगा जिससे आपको आपका सारा नंबर उस नए सिम में मिलेगा ।
  4. दोस्तो आप UPC CODE उसी दिन निकले जिस दिन आपको PORTING का प्रोसेस करवाना है क्योंकि उसका Expiry डेट बहुत ही काम होता है तो ऐसा न हो कि आप पोर्टिंग करवाने जाए और आपका upc कोड अगर दिन expire हो जाये तो ऐसे में आप उसी दिन कोड को ही निकले ।

Sim PORT कैसे करे

दोस्तो अगर आपने ऊपर दिए गयी जानकारी को पढ़ लिया है तो अब बारी है सिम पोर्ट के प्रोसेस को जानने की तो अब हम आपको सिम पोर्ट कैसे करते है उसके बारे में बताने जा रहे है ।

दोस्तो सबसे पहले आपको अपने मोबाइल के Messaging में जाके आपको एक SMS भेजना पड़ता है जो कि आपको PORT फिर SPACE फिर आपको अपना 10 अंको का मोबाइल नंबर लिखना है और उसके बाद उससे आपको 1900 पर भेज देना है ।

उसके बाद आपके पास एक UPC ( Unique Porting Code ) कोड आपके नंबर पर एक sms के जरिये प्राप्त होगा जिसमें आपको UPC CODE के साथ उसका Expiry Date भी दिया गया होगा उस expiry date तक आपका कोड Valid रहेगा ।

दोस्तो फिर आपके उसी नंबर पर कंपनी के तरफ से कॉल आएगा जिसमे आपको कहा जायेगा कि आप हमारे कंपनी को क्यों छोड़कर जाना चाहते है तो आप अपने हिसाब से उनसे बात करके आपने प्रॉब्लम को बता दीजियेगा लेकिन हा दोस्तो एक बात का ध्यान जरुरी रखे कि कंपनी के तरफ से आपको कुछ ऑफर दे कर रोकने की कोशिश की जाएगी तो अगर आप उनके ऑफर को ले लेते है तो आपका Porting Request Cancel हो जाएगा ।

दोस्तो उसके बाद आपको आपने घर के नजदीकी किसी भी  मोबाइल के दुकान पर जाना है और आपने porting का process पूरा करवाना है तो वहां पर जो भी दुकानदार होंगे वह आपसे आपका Document लेंगे और जिस भी किसी का डॉक्यूमेंट होगा वह उनका फ़ोटो क्लिक करके आपका Porting Process Complete कर देंगे ।

फिर आपका नया Sim Card नए Rules के हिसाब से 2 से 3 दिनों में चालू हो जाएगा |

फिर आपको अपने नये सिम से Tele Verification करना  पड़ता है जो कि आपको एक नंबर dial करके आपने जो भी document दिया था उसी से जुड़ी कुछ सवालों के जवाब देना है

  • जैसे कि अगर आपने Aadhar Card दिया था तो आधार कार्ड के Last 4 अंक और आपके Date of Birth का Year पूछा जाता है या फिर आपके Alternate Mobile Number पर एक OTP आता है उसकी मदद से भी टेली वेरिफिकेशन हो जाता है ।
  • फिर आपको दुकान पर जाके आपने उस नंबर में First Recharge करवा लेना है जो भी प्लान आता है वह आप दुकानदार से पूछकर FRC करवा लीजियेगा फिर आपका SIM पूरी तरह से चालू हो जाएगा ।
  • दोस्तो उसके बाद आपको आपने पुराने सिम का Contact नंबर नए सिम Card में Transfer कर लेना है उससे आपका जो भी नंबर पुराने सिम में Save था वो नए सिम में आ जाएगा ।

Sim Port FAQs ( Frequently Asked Questions )

  • UPC CODE  कितने दिन तक Valid रहता है
    दोस्तो UPC कोड की वैलिडिटी आपको SMS में दिया जाता है ।
  • PORT करवाने के बाद क्या Recharge करवाना पड़ता है
    हाँ आपको कोई भी FRC प्लान से पहली बार रिचार्ज करना पड़ता है ।
  • सिम पोर्ट करने के बाद क्या पुराने सिम का रिचार्ज का क्या होगा
    दोस्तो जो भी रिचार्ज आपके नंबर में पहले से है वह नए सिम में ट्रांसफर नही होगा वह रिचार्ज Suspend हो जाएगा ।
  • Sim Kitne Din Me Port Hota Hai
    आपका सिम 3 – 4 दिनों में पोर्ट हो जाता है TRAI के नए Rules के हिसाब से ।
  • नया सिम मोबाइल में कब डालना है
    दोस्तो जब आपका पुराना सिम काम करना बंद कर दे तभी आपको नए सिम को लगाना है ।

आपने क्या सीखा – Sim port kaise kare

दोस्तो आज आपने sim port kaise kare ? MNP क्या होता है  के बारे में काफी डिटेल्स में जाना और मुझे उम्मीद है कि आपको दी गयी जानकारी काफी पसंद आई होगी आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ Social Media पर जरूर शेयर करे और हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के साथ हमारा Facebook पेज को लाइक करे ।

Himanshu

A Tech Enthusiastic Person Who Love to Read Book and Create Videos.

Leave a Reply